Recent Post

Tuesday, August 21, 2012

गढ़वाली कहावतें/लोकोक्तियां 06

ख्वों न खौं बल चौबटा मा रौं

आत्मा बैरि बल गिच्चूा

औ खुंड बल म्यारा मुंड

असमौ मास बि मळसा का पिंड
अर समौ मास बि मळसा का ई पिंड

न जौं बिराणि मंडेलि न लौं बल पूंछ गंडेलि

Wednesday, August 15, 2012

गढ़वाली कहावतें/लोकोक्तियां 05

बंदर बांठी

बिराळौं सि लड़ै

हौंसिया उमर

दानौ हात

आटू चौंळ कू भौ

जंद्यो खुर्सेण

Tuesday, August 14, 2012

गढ़वाली कहावतें/लोकोक्तियां 04


पौणा न्‍यूड़ बल खाणू
अर नौना न्‍यूड़ सेणू

कजेल्‍न करि बल सर्पै सौर
अर वू तणेण तणेण क मौर

भैंस्‍यो मोळ बल भैंसी का ई ढमणा

ज्‍यूंदा मा नि दे बल मांड
अर मोरी खैंडी खांड

Monday, August 13, 2012

गढ़वाली कहावतें/लोकोक्तियां 03

घौड़ा मा ढांग प्वोड़ू या ढांग मा घौड़ू
होण घौड़ै कि ई रांड च

काठै बिराळी त् मैं बणौलू
पण म्याणऊं कू कौरलू

मुसा का छन पराण जाणा
अयेडि़ बोदी सकून ई नि

बण्डि खाणौं जोगी ह्वयों
अर पैलि बासा भू‍क्कि रयों

रौ-रौ बाबा बल खा-खा
न बाबा बल मिन् जोगि होण

अड़ै पढ़ै बल जाट
सोळा दूणि आट

Thursday, August 02, 2012

गढ़वाळी औखाणा (कहावतें) 02

 सिंग पल्यो ण
 कंटर बांधणू
 चंद्रैण कन्न‍
 सुद्दी कि मुंडाठेल
 घोळ मथौळ कन्नूा
 हंस ना कागा
 गीत लगणा
 नौ धरेणा

Wednesday, August 01, 2012

गढ़वाळी औखाणा (कहावतें) 01

Garhwali proverbs and sayings
गढ़वाळी औखाणा (कहावतें)

 जांदि दा क्यण पुछण औंदि दां पुछलू
 बैर्यो बाछरु बल पिजायां सुख
 घुटदौं त गिच्चू अर थुक्दौं त अखर्त जांदू
 खाणू बल गुड अर बतौण पिन्ना
 दाना गोरु क्यर देखण बल सींग अर खूर
 सुंगरौ पोथलू बल खारै पाण
 गल्ला न पल्ला अर द्वी ब्यौर कर्ला
 बड़ा बैरि कू बल बड़ू मान